aaj ki taaja khabar/today's news

Blog

Ganesh Chaturthi :गणेश चतुर्थी है आज,

आज Ganesh Chaturthi गणेश जी को विघ्नहर्ता और मंगलकर्ता भी कहते हैं. गणेश जी का जन्म उत्सव 19 सितंबर आज मनाया जाता है पूरी भारत में कहा जाता है कि पूरी दुनिया में गणेश उत्सव मनाया जाता है

हिंदू धर्म में गणेश जी को प्रथम पूज्य माना जाता है कोई भी पूजा आप करते हो कोई भी चीज लेते हो या कोई भी प्रॉपर्टीज लेते हो कोई भी चीज करने वाले हो तो सबसे पहले गणेश जी की पूजा की जाती है उसके बाद सारे कामकाज हिंदू धर्म में किए जाते हैं

Ganesh Chaturthi 2023:

ये पर्व भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है. मंत्री जी की श्री गणेश जी का इस दिन प्रकट हुआ है.गणेश जी धरती पर 10 दिन आते हैं अपने भक्तों की पूजा कामनाएं सारी पूरी करते हैं और यह उत्सव गणेश जी का पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता है भजन कीर्तन आरती यह सारी चीजें यहां पर होते हैं.जैसे कि 19 सितंबर से 28 सितंबर तक 19 सितंबर मतलब आज से आरंभ हो रहा है आप पूरे भारत में घूम सकते हो गणेश जी के दर्शन कर सकते हो हर जगह गणेश जी के भक्त आपको मिलेंगे

 

गणेश चतुर्थी पर इस विधि से करें पूजा  (Ganesh Chaturthi pujan Vidhi)

  • सबसे पहले सुबह उठकर स्नान आदि करें.
  • उसके बाद गणेश जी की तांबे या फिर मिट्ट
  • फिर एक कलश में जल भर लें और उसके मुंह को नए से वस्त्र बांध दें. इसके बाद उसके ऊपर गणेश जी को विराजमान करें
  • गणेश जी को सिंदूर और 21 ध्दूर्वा चढ़ाई और 21 मोदक का भोग लगाई और विधि के अनुसार पूजा करें
  • अंत में लड्डू और भोजन का प्रसाद आप ब्राह्मण अथवा गरीबों को बांट दें

 Lord Ganesh Birth Story:  

शिव पुराण के अनुसार 1 दिन माता पार्वती ने स्नान करने से पूर्व हल्दी का उबटन लगाया था उसके बाद जब उन्होंने उबटन उतारा तो उससे एक पुतला बना दिया था और उन्होंने उस में प्राण डाल दिए और इसी तरह से गणेश जी का जन्म हुआ था. 

उसके बाद माता पार्वती स्नान करने के लिए चली गई और उन्होंने गणेश जी से यह कहा कि मैं स्नान करने जा रही हूं तो कुछ समय बाद शिवजी पार्वती से मिलने जा रहे थे तभी द्वारपाल पर श्री गणेश जी ने उन्हें रोक दिया. और कहा कि मेरी माता स्नान कर रही है तो आप अंदर नहीं जा सकते तो उसके बाद शिवगणों  और गणेश में बहुत भयंकर युद्ध हुआ  लेकिन कोई भी उन्हें हरा नहीं सका फिर क्रोधित शिवजी ने अपने त्रिशूल से बालक गणेश का सिर काट डाला।

जब माता पार्वती जी को यह बात पता चली तो उन्होंने प्रलय करने का निश्चय किया और बहुत ज्यादा रोने लगी उनके पहले से देवदूत भी डर गए और देवताओं ने उनकी स्तुति कर उन्हें शांत किया। 

भगवान शिव के गुरु जी ने यह कहा कि जाओ उत्तर दिशा में और अपनी मां अपने बच्चे की तरफ पीठ दिखा कर सो रही हो उसका सर लिया पर पानीपुरी जगह घूमने के बाद भी उन्हें नहीं मिला पर उनको कई समय बाद हाथिया देखी जो अपने बच्चे की तरफ सिर करके नहीं सोती तो उन्होंने हाथी के बच्चे का सिर ले आए और उन्होंने गणेश  जी पर हाथी का सिर रखकर उनको पूर्णा जीवित कर दिया 

Ganesh Chaturthi 2023
Ganesh Chaturthi 2023

और गणेश जी को जीवित देकर माता पार्वती बहुत खुश हुई और उन्हों को देवताओं से आशीर्वाद मिला और शिव जी ने यह कहा कि मनुष्य आने वाले समय में जो भी कार्य करेंगे सबसे पहले आपकी पूजा की जाएगी उसके बाद है कार्य की शुरुआत होगी ऐसा आशीर्वाद दिया भीगने नाश किया इसी तरह से गणेश जी का विघ्नहर्ता भी नाम पड़ गया यह कहानी थी हमारे श्री गणेश जी की जन्म कथा

Happy Ganesh Chaturthi 2023: Wishes

  • भगवान गणेश आपको बुद्धि, समृद्धि और खुशियाँ प्रदान करें। गणेश चतुर्थी 2023 की शुभकामनाएँ!
  • आपको और आपके परिवार को खुशी और सफलता से भरे वर्ष की शुभकामनाएं। गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएँ!
  • भगवान गणेश आपके जीवन से सभी बाधाओं को दूर करें और उज्ज्वल भविष्य का मार्ग प्रशस्त करें। गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएँ
  • आपको संगीत, नृत्य और गणेश चतुर्थी के आनंदमय उत्सव से भरे दिन की शुभकामनाएं। शुभ उत्सव!
  • गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएँ। हम सभी की एक शानदार नई शुरुआत हो!
  • भगवान आपको हर तूफान के लिए एक इंद्रधनुष दे, हर आंसू के लिए एक मुस्कान दे। हर देखभाल का वादा और हर प्रार्थना का जवाब। आपको गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएँ।

Happy Ganesh Chaturthi 2023: Messages

  • गणेश चतुर्थी पर हार्दिक शुभकामनाएँ भेज रहा हूँ! आपको अपने सभी प्रयासों में सफलता मिले। गणपति बप्पा मोरया!
  • भगवान गणेश का आशीर्वाद आज और हमेशा आप पर बना रहे। गणेश चतुर्थी 2023 की शुभकामनाएँ!
  • चूँकि भगवान गणेश की मूर्ति आपके घर की शोभा बढ़ाती है, इसलिए आपका जीवन सकारात्मकता और अच्छी ऊर्जा से भरा रहे। गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएँ!
  • भगवान गणेश की दिव्य उपस्थिति आपको सफलता और खुशी की ओर मार्गदर्शन करे। आपको गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएँ!
    
    

भगवान श्री Ganesh के ऐसे तो बहुत सारे भक्त हैं और बहुत सारे उनके मंदिर है पर हम ऐसी कुछ मंदिरों के और ऐसे कुछ जगह परके बारे में बताने वाले हैं जहां पर श्री  गणेश जिनकावास बसता हैऔर बहुत ज्यादा वहां पर पॉजिटिव एनर्जी हमेंप्राप्त होती हैऐसे कुछ मंदिरों के बारे में और जगह के बारे में आपको बताने वाले हैंचलो फिर यह भी पढ़ लेना

श्री सिद्धिविनायक मंदिर मुंबई: ऐसा कहा जाता है जी मंदिर मेंसोने की मुद्राएं होती है उसे सिद्धिविनायक Ganesh कहा जाता है सिद्धिविनायक यह मंदिर मुंबई के प्रभादेवी के इलाके में है जो पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है. इस मंदिर का निर्माण 1612 में किया गया था यह मंदिर पांच मंजिला है जिसमें हॉस्पिटल भी है जिससे मुफ्त इलाज किया जाता है उसके अलावा यहां पर रसोई घर जिसे मुफ्त में भोजन भी दिया जाता है रहने के लिए जगह भी भक्तों के लिए दी जाती हैयहां पर आकर आपस्मरण भी कर सकते होमुंबई में सबसे श्रेष्ठ मंदिर यही माना जाता है हर कोई इस मंदिर में आते हैं जब कोई मुंबई दर्शन करते हैं तो इस मंदिर से ही अपनी मुंबई दर्शन से शुरुआत करते हैं.

श्रीमंत दगडूशेठ हलवाई मंदिर (पुणे): भक्तों को यह मंदिर बहुत आशाएं प्राप्त करता है.यह मंदिर महाराष्ट्र और भारत नहीं तो पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है इस मंदिर के बारे में पूरी दुनिया जाती है और बाहर देश के लोग इस मंदिर में दर्शन करने आते हैं इसलिए हमारा यूं ही नहीं भारत इतिहास एक और पौराणिक कहा जाता है.

मनाकुला विनयागर मंदिर पांडिचेरी :इस मंदिर का Ganesh का मुंह सागर की तरफ है इस मंदिर को लोग बहुत ज्यादा मानते हैं जिस वक्त जिस वक्त अंग्रेजों का राज था तभी इस मंदिर पर उन्होंने बहुत बार हमला किया उसे वक्त उन्होंने कई बार इस गणपति की मूर्ति को समुद्र में डूबने की कोशिश की पर हर बड़ी मूर्तिसमुद्र से बाहर आई थी इस मंदिर में गणपति का 10 फीट ऊंचा रथ है

Happy Ganesh Chaturthi

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *